नवरात्रों के समय मन और शरीर की शुद्धता पर विशेष ध्यान देना चाहिए

विद्वानों का कहना है कि नवरात्रों के समय मन और शरीर की शुद्धता पर विशेष ध्यान देना चाहिए पूजा के द्वारा मन और शरीर को स्वस्थ बनाया जाता है नवरात्रों के समय सिर्फ दूध पीते हैं अथवा और ऋतु के अनुसार फलों का सेवन करना ही उचित रहता है

डा अनुज अग्रवाल

युग युगांतर मे विश्व के अनेक हिस्सों में उत्पन्न होने वाली मानव सभ्यता ने सूर्य, चंद्र, ग्रह, नक्षत्र, जल, अग्नि, वायु, आकाश, पृथ्वी, पेड़, पौधे, पर्वत, पर सागर की क्रियाशीलता में परम शक्ति का कहीं ना कहीं एहसास किया है। उस शक्ति के आश्रय व कृपा से ही देव, दनुज, मनुज, नाग, किन्नर, गंधर्व, पितर, पेड़, पौधे, पशु, पक्षी, व कीट आदि चलाएंमान है ऐसी परम शक्ति की सत्ता का सतत अनुभव करने  वाली सुसंस्कृत पवित्र, वेद गर्भा, भारतीय भूमि धन्य है जिसकी सहस्तियों धर्म, अर्थ, काम, तथा जीवन में अंतिम लक्ष्य मोक्ष को भी प्राप्त किया है। हमारे वेद पुराण व शास्त्र गवाह है। कि जब जब किसी आसुरी शक्ति ने अत्याचार व प्राकृतिक आपदाओं द्वारा मानव जीवन को तबाह करने को करने की कोशिश की तब तक किसी न किसी दैवीय शक्ति का अवतरण हुआ है इसी प्रकार जब महिषासुर आदि दैतयो के अत्याचार से भू व दैवलोक व्याकुल हो उठे तो परमपिता परमेश्वर की प्रेरणा से सभी देवगणो ने अद्भुत शक्ति का सृजन किया जो आदिशक्ति मां जगदंबा के नाम से संपूर्ण ब्रह्मांड में व्याप्त हुई जिन्होंने महिषासुर आदि देतयो  का वध कर भूख व देवलोक में पुणे प्राणशक्ति व रक्षा शक्ति का संचार कर दिया देवी भागवत सूर्य पुराण शिव पुराण भागवत पुराण मारकंडे आदि पुराणों में शिव शक्ति की कल्याणकारी कथाओं का आदित्य वर्णन आता है शक्ति की परम कृपा प्राप्त करने हेतु संपूर्ण भारत में नवरात्रि का पर्व बड़ी श्रद्धा भक्ति व हर्षोल्लास के साथ वर्ष में दो बार मनाया जाता है नवरात्रि में नौ देवियों की पूजा की जाती है हिंदुओं में यह देवियां 9 महा शक्तियों के रूप में जानी जाती हैं यह नौ देवियां नौ शक्तियों के रूप में  1शैलपुत्री 2 ब्रह्मचारिणी 3 चंद्रघंटा 4 कुष्मांडा  5 स्कंदमाता 6 कात्यानी  7कालरात्रि 8महागौरी 9 सिद्धिदात्री है।

x

COVID-19

India
Confirmed: 34,175,468Deaths: 454,269