कोविड-19 (कोरोना महामारी) को रोकने के लिये मुल्क़ में जारी लॉकडाउन और फिज़िकल डिस्टेंस की वजह से 2020 की ईद पर हमें कुछ ज़रूरी बातों का ध्यान रखना होगा

*#ईद के दिन के लिये ज़रूरी हिदायात#*

*अस्सलामु अलैकुम व रहमतुल्लाही व बरकातुहु*

*कोविड-19 (कोरोना महामारी) को रोकने के लिये मुल्क़ में जारी लॉकडाउन और फिज़िकल डिस्टेंस की वजह से 2020 की ईद पर हमें कुछ ज़रूरी बातों का ध्यान रखना होगा ।*

*इस बार ईद की नमाज़ ईदगाह की बजाए अपनी फैमिली के साथ घर पर ही पढ़ें।*

*मौहल्ले में किसी घर को जा- ए- नमाज़ बना कर एक जगह इकठ्ठे होकर भी ईद की नमाज़ का अहतमाम ना करें।*

*ईद के मौक़े पर ख़ुशी का इज़हार करने के लिये ना तो एक दूसरे से हाथ मिलाऐं और ना ही गले मिलें बल्कि इसकी जगह फ़ोन के ज़रिये से ही एक दूसरेे को मुबारकबाद दें*

*वालिदैन, सरपरस्त और इलाक़े के बाअसर लोगों से मेरी गुज़ारिश है कि वो अपनी औलाद और अपने मातहत लोगों को ईद के मौक़े पर बाज़ारों में, सड़कों पर घूमने से रोकें और बाइकों पर ड्राइविंग करने से हरगिज़ मना करें।*

*इसी तरह इस बात का भी ख़ास ख़्याल करें कि ईद के मौक़े पर एक दूसरे के घर शीर खाने, दावत खाने और रिश्तेदारों के पास आने जाने से भी परहेज़ करें।*

*जो इलाक़े रेड ज़ोन और कंटेनमेंट ज़ोन में आ चुके हैं उन जगहों पर इन बातों का ख़ास ख़्याल रखा जाए।*

*और सबसे ज़रूरी बात ये कि किसी के बहकावे में आकर या ख़ुशी के इज़हार के लिये कोई ऐसा क़दम ना उठाऐं जिससे मीडिया जो तैयार बैठी है, उसको हवा मिले और पूरी क़ौम बदनामी का शिकार हो।*

*2020 की ये ईद हम सभी को बहुत ही एहतियात और हुकूमत की एडवायज़री का ध्यान करते हुऐ मनानी है, इंशा अल्लाह रब्बुल आलमीन हमारी नेकियों में कोई भी कमी नहीं करेगा ।*

*इस मैसेज को आगे भी शेयर करें…* शुक्रिया

*अब्दुल ग़फ़्फ़ार सैफ़ी (समाजसेवी)*
क़स्बा बुढ़ाना, ज़िला मुज़फ़्फ़रनगर (उ. प्र.) @ 9897936707

x

COVID-19

India
Confirmed: 236,184Deaths: 6,649
ine