कोरोना संक्रमण के फैलाव से बचने के लिए बरतें सावधानी : जिलाधीश

कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन : 22 मई 2020
कोरोना संक्रमण के फैलाव से बचने के लिए बरतें सावधानी : जिलाधीश
राहत की बात: सेक्टर चार का एक नागरिक कोरोना को मात देकर हुआ स्वस्थ्य, अस्पताल से आज मिलेगी छुट्ïटी
–सहयोगी बनें, घबराए नहीं, लॉकडाउन की पालना करें, घर में रहें, सुरक्षित रहें-बोले जिलाधीश यशेन्द्र सिंह
रेवाड़ी, 22 मई। आदर्श शर्मा जिलाधीश यशेन्द्र सिंह ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा अभी तक 2351 सैंपल लिए गए हैं, जिनमें से 11 कोविड-19 पॉजिटिव पाए गए हैं। जबकि 2263 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है तथा शेष 77 सैंपल की रिपोर्ट का इंतजार है। जिलाभर में 1620 होम क्वारंटीन हैं, जो देश व विदेश के अन्य हिस्सों से यात्रा करके आए हैं। मायण गांव में एक युवा नागरिक कोरोना पॉजिटिव मिला है। इसका सैंपल मामडिया अहीर से मिले कोरोना पॉजिटिव से कान्टैक्ट ट्रेसिंग के आधार पर लिया गया था। जबकि दूसरा माजरा गांव से है जो गुरूग्राम के प्राईवेट अस्पताल में आठ मई से अपना किसी अन्य बिमारी का ईलाज करवा रहा है। ईलाज के दौरान अस्पताल प्रबंधन गुरूग्राम ने उसका टेस्ट लिया था, जो कोविड पॉजिटिव आया है,अभी भी पीडि़त गुरूग्राम में उपचाराधीन है। सभी मैडिकल टीम की निगरानी में हैं। जिला प्रशासन ने मायण व माजरा गांव में कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत कोरोना के संक्रमण की चैन को तोडऩे के लिए स्वास्थ्य विभाग को आदेश दिए हैं।
जिलाधीश ने कहा कि राहत की बात है सेक्टर चार में तीन कोरोना पॉजिटिव मिले थे। उनमें से एक ठीक हो गया है और आज उसे मैडिकल कॉलेज से छुट्ïटी मिल जाएगी। आमजन अपनी, अपने परिवार की सुरक्षा और जनहित में लॉकडाउन की पालना करें। सोशल डिस्टेंङ्क्षसंग अपनाएं, घबराए नहीं, घर में रहें, खुले में न थूकें, सुरक्षित रहें। शाम सात बजे से सुबह सात बजे तक आवागमन व घर से बाहर निकलने पर पाबंदी लगाई गई है। लॉकडाउन की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है। जिलाधीश ने कहा कि 65 वर्ष से अधिक आयु,क्रॉनिक बीमारियों से ग्रसित, गर्भवती महिलाएं और दस वर्ष तक की आयु के बच्चों को घर में ही रहना चाहिए ताकि कोरोना के संक्रमण से बचाव रहे। कन्टेनमेंट जोन में पूर्ण रूप से आवागमन प्रतिबंधित है।
जिलाधीश ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना के संक्रमण की चैन तोडऩे के लिए जिला में बनाए गए कंटेनमेंट व बफर जोन में निंरतर स्कैनिंग व स्क्रीनिंग अभियान चलाया हुआ है। किसी भी नागरिक को खांसी, जुखाम, बुखार व सांस लेने में तकलीफ होने पर तुरंत नागरिक अस्पताल में डॉक्टर से परामर्श करें ताकि जिला में कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ा जा सके। यह सभी के सहयोग से ही होगा।
डॉ विजय प्रकाश ने बताया कि 20 मई तक लिए गए सभी सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा कंटेनमेंट जोन में निरंतर स्केनिंग व स्क्रीनिंग कार्य किया जा रहा है। कोरोना वायरस की चैन को तोडऩे के लिए जरूरी होने पर और भी सैंपल लिए जाएंगे। डॉ विजय ने बताया कि सीआईएसएफ के दो जवानों के सैंपल अभी तक नहीं लिए गए हैं। उन दोनों को नागरिक अस्पताल में बुलाया गया है। उन्होंने एसआरएल लैंब में अपने टेस्ट करवाए थे , इस लैब की स्वास्थ्य विभाग द्वारा मान्यता रद्ïद की जा चुकी है।
इन नंबरों पर लें मदद
जिलाधीश ने कहा कि कोविड-19 की रोकथाम व उपचार के लिए हेल्प लाइन नंबर 01274-250764 मोबाइल नंबर 9466777510 और स्टेट हैल्प लाइन नंबर 1075 व 8558883911 पर मदद लें सकते हैं। उपायुक्त ने कहा कि जिलावासी लॉकडाउन के दौरान मदद के लिए टोल फ्री नंबर 1950 पर डायल करें। बाजार में कालाबाजारी व जमाखोरी के लिए 01274-255214 पर संपर्क करें।
रेवाड़ी से डॉक्टर आदर्श शर्मा की रिपोर्ट

x

COVID-19

India
Confirmed: 236,184Deaths: 6,649
ine