एसडी पब्लिक स्कूल के छात्र अर्णव गोयल ने किया अनटच डोरबैल का निर्माण

एसडी पब्लिक स्कूल के छात्र अर्णव गोयल ने किया अनटच डोरबैल का निर्माण

मुजफ्फरनगर। कोरोना महामारी को देखते हुए एसडी पब्लिक स्कूल के छात्र अर्णव गोयल निवासी गांधी कालोनी ने एक डोर बेल का आविष्कार किया है। इस बेल में मेन गेट पर लगे डोरबेल को छूना नहीं पड़ता 20 से 30 सेंटीमीटर दूर से ही बज जाती है वह बैल आदमी को कैच कर लेती है और अपने आप बजने लगती है, कोई भी आपके डोर को छू नहीं सकता और कुछ हद तक आप कोरोना से बच सकते हैं। अर्णव गोयल उम्र 13 वर्ष, जो कि एसडी पब्लिक स्कूल में कक्षा 8 का छात्र है, उसने घर पर बैठे-बैठे कोरोना वायरस के डर के चलते (don’t touch the bell) का निर्माण किया, जिस बैल में सिर्फ बैल के सामने हाथ करने से स्वत: ही घंटी बजने लगेगी। प्रात: जब इस बैल की जानकारी एसडी पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्या श्रीमति चंचल सक्सेना को मिली, तो उन्होंने अर्णव व उसके परिजनों को बधाई दी। अर्णव ने बातचीत में बताया कि गत 2 सप्ताह से इस प्रोजेक्ट पर लगा हुआ था, उसने बताया कि उसने इस बैल के निर्माण में वेस्ट सामान का उपयोग किया है। इसी बैल के साथ वो इसमें सेनेटाइजर भी जल्द जोडऩे वाला है, जो घर पर बैल बजायेगा उसकी फुल बॉडी को सेनेटाइज हो जाएगी।
अर्णव ने बताया कि उसका लक्ष्य इसरो में वैज्ञानिक बनने का है। अर्णव ने बताया कि इस काम में मेरी मम्मी श्रीमति प्रेरणा गोयल (जो की एसडी पब्लिक स्कूल में अध्यापिका) और पापा सुमित गोयल (कंप्यूटर इंस्टीट्यूट) का बहुत बड़ा सहयोग रहा है।

x

COVID-19

India
Confirmed: 236,184Deaths: 6,649
ine