आखिर महोबा पुलिस अबैध तमंचों व अबैध कारतूसों के पीछे का सच जानने से क्यों कर रही परहेज-जिले में अबैध शस्त्र फैक्ट्रियों के संचालन व अबैध कारतूस तस्करों की सक्रियता के मिल रहे संकेत

Spread the love

आखिर महोबा पुलिस अबैध तमंचों व अबैध कारतूसों के पीछे का सच जानने से क्यों कर रही परहेज-जिले में अबैध शस्त्र फैक्ट्रियों के संचालन व अबैध कारतूस तस्करों की सक्रियता के मिल रहे संकेत

आखिर महोबा पुलिस अबैध तमंचों व अबैध कारतूसों के पीछे का सच जानने से क्यों कर रही परहेज-जिले में अबैध शस्त्र फैक्ट्रियों के संचालन व अबैध कारतूस तस्करों की सक्रियता के मिल रहे संकेत
महोबा /उत्तर प्रदेश में पुलिस की लाख कोशिशों के वावजूद भी अबैध तमंचों व अबैध कारतूसों के साथ अपराधियों की गिरफ्तारी का सिलसिला लगातार जारी है तो वही दूसरी तरफ पुलिस अपराधियों को गिरफ्तार कर विधिक कार्यवाही कर रही है किंतु इन अबैध तमंचों व अबैध कारतूसों के पीछे का सच जानने से महोबा पुलिस न जाने क्यों परहेज कर रही है जबकि इस विषय मे मीडिया द्वारा पहले भी कई वार पुलिस का ध्यान केंद्रित करवाया जा चुका है इसके वावजूद भी आपराधिक वारदातों में यही अबैध तमंचे व अबैध कारतूस सोने में सुहागे का काम वर्षों से करते आ रहे है महत्वपूर्ण व चिंतनीय विषय होने के वावजूद भी न जाने क्यों महोबा पुलिस इसके पीछे का सच जानने से परहेज कर रही है ऐसा ही मामला प्रकाश में आया महोबा जनपद के खरेला थानाक्षेत्र में जहां थानाध्यक्ष खरेला श्री राजू सिंह द्वारा गठित टीम ने धवारी रोड कस्बा खरेला से एक नफर अभियुक्त संतोष तिवारी पुत्र बाबूराम तिवारी उम्र लगभग 53 वर्ष निवासी मुहल्ला हले 3 कस्बा व थाना खरेला जनपद महोबा को गिरफ्तार किया गया जिसके कब्जे से 01 अदद तमंचा 315 बोर व 02 अदद जिन्दा कारतूस 315 बोर बरामद हुये है जिसके सम्बन्ध में अभियुक्त के विरूद्ध थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0 34/20 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट पंजीकृत कर अभियुक्त को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश करने हेतु भेजा जा रहा है ।
तो इसी प्रकार दूसरा मामला उभरकर सामने आया पनवाड़ी थाना क्षेत्र में जिसमे प्रभारी निरीक्षक पनवाड़ी श्री अशोक कुमार सिंह द्वारा गठित टीम ने चेकिंग व देखभाल क्षेत्र के दौरान मुखबिर की सूचना पर तुर्रा रोड नहर पुलिया ग्राम सलैयाखालसा से एक नफर अभियुक्त आजाद पुत्र प्रहलाद राजपूत उम्र 22 वर्ष निवासी ग्राम सलैयाखालसा थाना पनवाड़ी जनपद महोबा को गिरफ्तार किया गया जिसके कब्जे से 01 अदद तमंचा 315 बोर व 01 अदद कारतूस जिन्दा 315 बोर बरामद हुआ है जिसके सम्बन्ध में अभियुक्त के विरूद्ध थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0 47/2020 धारा 3/25 आर्म्स एक्ट पंजीकृत कर माननीय न्यायालय के समक्ष पेश करने हेतु भेजा गया ।
किन्तु दोनों ही मामलों में पुलिस ने ये जानना उचित नही समझा आखिर ये अबैध तमंचे व अबैध कारतूस अपराधियों को कहां से प्राप्त होते है फिलहाल कुछ भी हो अपराधियों के पास से लगातार वरामद हो रहे अबैध तमंचों से क्षेत्र में अबैध शस्त्र फैक्ट्रियों के संचालन के संकेत मिल रहे है जिस पर हमारी पुलिस को अन्तः करण से मनन करना चाहिए सबसे अधिक ध्यान देने योग्य बात तो यह है अपराधियों को अबैध तरीके से कारतूस कैसे प्राप्त होते है कही न कहीं सरकारी शस्त्र विक्रेताओं की कार्य शैली पर सवालिया निशान पैदा करता है जिस पर विभागीय जिम्मेदारों को ध्यान देने की परम् आवश्यकता है ।