आपदा प्रबंधन जन जागरूकता प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित

Spread the love

आपदा प्रबंधन जन जागरूकता प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित।

हरिद्वार उत्तराखंड==आपदा प्रबन्धन विभाग द्वारा ’’अन्तर्राष्ट्रीय प्राकृतिक आपदा न्यूनीकरण दिवस’’ के उपलक्ष्य में जिला कलक्ट्रेट सभागार, रोशनाबाद में जिला प्रशासन,, आपदा मित्रों, स्वयंसेवकों हेतु एक दिवसीय आपदा प्रबन्धन जन-जागरूकता प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया । प्रशिक्षण के उद्घाटन सत्र में डा0 हरिबल्लभ कुनियाल, सलाहकार, जनपद आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण, हरिद्वार के द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम में उपस्थित विभागीय अधिकारियों, आपदा मित्र (स्वंयसेवक), स्वंय सेवी संस्थाओं का स्वागत करते हुए बताया कि राज्य में अन्तर्राष्ट्रीय प्राकृतिक आपदा न्यूनीकरण दिवस’’ के उपलक्ष्य में जनपद हरिद्वार में विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं की सवेंदनशीलता के दृष्टिगत प्राकृतिक घटनाओं के प्रति जनसाधारण में संवेदनशीलता के विकास, आपदा जोखिम के प्रति जागरूकता बनाये रखने एवं आपदा के दुष्प्रभावों को न्यून किये जाने के उद्देश्य से प्रत्येक वर्ष 13 अक्टूबर को ’’अन्तर्राष्ट्रीय प्राकृतिक आपदा न्यूनीकरण दिवस’’ के रूप में मनाया जाता है । उन्होने आपदा का परिदृश्य जनपद में पूर्व में घटित आपदाओं के अनुभवों से सीख लेते हुए आपदा न्यूनीकरण व प्रबन्धन, विकास व आपदा के कारणों पर चर्चा करते हुए प्रत्येक व्यक्ति को आपदा के सम्बन्ध में जागरूक संवेदनशील व प्रशिक्षित होना आवश्यक बताया और कहा कि फस्ट रिस्पोंण्डर के रूप में स्थानीय व्यक्ति ही सर्वप्रथम आपदा में लोगों की मद्द व जीवन रक्षा कर मानव सेवा के पुनीत कार्य में भागीदार हो सकता है। एन0डी0आर0एफ0 के प्रशिक्षिकों द्वारा उपस्थित अधिकारियों, स्वंय सेवी संस्था एवं आपदा मित्र(स्वंयसेवक) को आपदा के प्रकार बताए और जनपद हरिद्वार में सिडकुल अवस्थित कम्पनियों में रासायनिक आपदा की विस्तृत जानकारी दी । उन्होंने घायल व्यक्ति को रिकवरी पाजीशन में रखना तथा घायलों को स्वास्थ्य केन्द्र तक ले जाने हेतु विभिन्न वैकल्पिक उपायों तथा प्राथमिक
चिकित्सा के तहत कृत्रिम श्वसन, हड्डी टूटन, रक्तस्राव आदि के सम्बन्ध में जानकारी दी ।

वीरेंद्र रावत थलीसैंण गढ़वाल

Website Designed By - Fragron Infotech, Call - 7000131032