विकास बालियान की फ़िल्म ” घरवाली ” हुई रिलीज , दर्शको में उत्साह …

Spread the love

विकास बालियान की फ़िल्म ” घरवाली ” हुई रिलीज , दर्शको में उत्साह …

लोकसभा चुनाव से पहले चौकीदार फिल्म हुई थी रिलीज जिसका डायलॉग पूरे देश मे गुंजा ” मै भी चौकीदार हूँ ” …

मुज़फ्फरनगर । विभिन्न क्षेत्रों में हाथ आजमाने वाले और प्रत्येक क्षेत्र में आसमान जैसी कामयाबी हासिल करने वाले मुजफ्फरनगर के विकास बालियान अब पत्रकारिता के बाद फिल्म लाइन में हाथ आजमा रहे हैं और यूट्यूब पर आने वाली उनकी हरियाणवी फिल्में एक के बाद एक सफल हो रही है।
पिछले वर्ष सादगी फिल्म से अपने फिल्मी कैरियर की शुरूआत करने वाले विकास बालियान अब तक दर्जनों हरियाणवी फिल्मों में काम कर चुके हैं। जिनमें चौकीदार जैसी सफल फिल्म भी शामिल है।
जिसमें राष्ट्रीय परिदृश्य को एक गांव के अंदर फिल्माने का कार्य फिल्म में किया गया है।
इस फिल्म में मोदी से मिलते जुलते एक किरदार की भूमिका विकास बालियान ने निभाई है।
जिसमें वह चौकीदार बने हैं और उस चौकीदार के कार्य ईमानदारी लगन मेहनत से जहां गांव वाले खुश हैं वहीं गांव को लूटने वाले लोग उनके खिलाफ रहते हैं।इस फ़िल्म की चर्चा सुन तत्कालीन सूचना प्रसारण केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन राठौर ने भी चौकिदार फ़िल्म यूनिट से मुलाकात की। उस मुलाकात में डॉ संजीव बालियान भी साथ रहे थे।
इस फिल्म के डायलॉग में चौकीदार हूं के बाद ही ‘मैं भी चौकीदार’ का नारा पूरे देश में बुलंद हुआ।इसके साथ ही वह मास्टर जी फिल्म में काम कर चुके हैं जो कि करोड़ों दर्शकों को अपनी ओर खींच चुकी है।
विकास बालियान की दबंग ठाकुर की अदाकारी से सजी आसरा फिल्म ऊंच-नीच के भेदभाव को खत्म करने का संदेश देने वाली फिल्म रही है तो चंद्रो का देवर फिल्म खासी हंसी मजाक की फिल्म थी,
तो निखड़ू फिल्म से जैविक, प्राकृतिक, जीरो बजट खेती को प्रोत्साहित किया गया है । और फिल्म के माध्यम से दिखाया गया है कि हमें जहरीले रासायनिक उर्वरक इस्तेमाल नहीं करने चाहिए।
इसी कड़ी में विकास बालियान की आज रिलीज हुई घरवाली फिल्म भी काफी पसंद की जा रही है।इस फिल्म में वह एक दबंग जमीदार बने हैं जो ब्याज का काम करता है पहली पत्नी के गुजर जाने के बाद वायदे से मुकर कर दूसरा विवाह करता है।जिसका खामियाजा उसके पुत्र को झेलना पड़ता है और सौतेली मां उसे अफीम चटा कर पागल बना देती है।
बाद में वह अपने बेटे का विवाह एक गरीब परिवार की पढ़ी लिखी लड़की से करता है जो तमाम हालात बदलती है। चौधरी बलदेव सिंह की भूमिका में दबंग जमीदार के किरदार में विकास बालियान काफी जमे हैं।
विकास बालियान चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत के सानिध्य में किसान राजनीति से जुड़े तो बाद में सरदार वीएम सिंह के साथ रहते हुए उन्होंने किसानों के लिए कड़ा संघर्ष जमीन पर और अदालत तक किया।
वह लंबे समय तक पत्रकारिता से भी जुड़े रहे हैं और अभी भी कृषि नजर नाम से समाचार पत्र निकाल रहे हैं।
डॉक्टर संजीव बालियान के बेहद करीबी विकास बालियान ने जिस भी क्षेत्र में हाजमा हाथ आजमाया है उसमें सफलता हासिल की है।वह लंबे समय तक पूर्व राज्यपाल रोमेश भंडारी के राजनीतिक सलाहकार भी रहे हैं।
और एक समय वह पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा की पार्टी जनता दल सेकुलर के प्रदेश प्रवक्ता भी रहे हैं। विकास बालियान उस राष्ट्रीय समिति में भी शामिल रहे जिसने चौधरी महेंद्र सिंह टिकैत की भाकियू के राजनीतिक विंग बीकेडी का निर्माण किया था। बाद में वह सरदार वीएम सिंह के राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के राजनीतिक विंग राष्ट्रीय किसान मजदूर पार्टी का निर्माण करने वाली राष्ट्रीय कमेटी में भी रहे। निर्माण कार्य से जुड़े विकास बालियान लखनऊ, बनारस, चित्रकूट, नेमिषारण्य, कानपुर, बेंगलोर, नोएडा आदि जगह कई मन्दिर, धर्मशाला, गऊशाला, भव्य इमारतें, दिव्यांग यूनिवर्सिटी, लोहिया पार्क, पीएनबी का जोनल भवन आदि निर्माण से जुड़े रहे है।और अब वे फिल्मों में हाथ आजमा रहे हैं और उनकी फिल्में करोड़ों लोग देख रहे हैं।
विकास बालियान को फिल्म लाइन में लाने का पूरा श्रेय हरियाणवी फिल्म के अमिताभ बच्चन समझे जाने वाले धाकड़ छोरा फिल्म उत्तर कुमार को जाता है, जिन्होंने उन्हें अपनी फिल्मों में काम दिया । आजकल विकास बालियान के पास कई फिल्मों के ऑफर आए हुए हैं।