सांसद आदर्श ग्राम के मनरेगा में गड़बडी का मामला आया सामने ग्रामीणों की लाखों रूपए की मजदूरी का गोलमाल

सांसद आदर्श ग्राम के मनरेगा में गड़बडी का मामला आया सामने ग्रामीणों की लाखों रूपए की मजदूरी का गोलमाल

लैलूंगा

रायगढ़ जिले के सांसद आदर्श ग्राम भकुर्रा की वास्तविक स्तिथि अब खुल कर सामने आने लगी हैं। सांसद आदर्श ग्राम में ग्रामीणों को मनरेगा योजना के तहत ग्रामीणों मजदूरी भुगतान के करोड़ो रूपये के भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है।

कलेक्ट्रेट पहुंचे भकुर्रा गांव के ग्रामीणों ने बताया की मनरेगा योजना से साल 2011-12 -13 में जमीन समतलीकरण, कूँआ निर्माण, डबरी निर्माण, आवास निर्माण आदि का काम किसी का मनरेगा योजना से राशि 105300, 185000, 184300रु स्वीकृत हुवा था इस योजना से भकुर्रा के 200 से अधिक हितग्राही है। इसमे भूतपूर्व सरपंच रंजीता सिदार, सचिव पंचराम पटेल, रोजगार सचिव परसन कुजूर द्वारा 2011-12-13 में रूपये का घोटाला किया गया। काम पूरा करा दिया गया। लेकिन इसका किसी कोई भुगतान नही किया गया। यह सिर्फ दो ग्रामीण जिन्हें गांव में जरा अलग हट के झगड़ालू प्रवृत्ति का होने की वजह से एक पयोधि सिदार को समतली करण व कुंवा निर्माण के लिए कुल 187000 हजार स्वीकृत हुवा था जिसमे से मात्र 41 हजार दिया और दूसरे जमीन समतलीकरण का काम कराया था।

इसे 40 हजार दिया और एक ने बताया कि उसके जमीन समतलीकरण के 42 हजार और कुंवा के लिए 1 लाख 65 हजार स्वीकृति हुईं थी इन लोगो ने सभी से उनका काम करवा लिया। लेकिन किसी को एक पैसा नही दिया। जिन दो ग्रामीणों को दिया वह भी उनके झगड़े की डर लेकिन आधा भी नही चलो इनको तो कुछ मिल भी गया लेकिन बाकी को तो कुछ भी नही मिला।

ग्रामीणों ने बताया की इसकी शिकायत ऐसा नही हैंकि किया नही गया जनपद से लेकर जिला पंचायत सचिव को दिया गया सभी हां करवाते हैं ही बोलते रहे और समय बीतता चला गया। इसके लिए गांव में बैठक भी किया गया लेकिन बैठक में सरपंच, सचिव और रोजगार सचिव कोई नही आया। कई हितग्राही तो मजदूरों को अपनी गाय बकरी बेच कर मजदुरो को दिया। साल दर साल बीतता चला गया लेकिन न तो हितग्राहियों को भुगतान किया गया और न ही मजदूरों की मजदूरी भुगतान किया गया है। इन लोगो ने अब तक जनपद सीईओ, जिला पंचायत सीईओ तक को शिकायत कर चुके हैंलेकिन अब तक भुगतान नही हो सका है। अब ये कलेक्टर से मामले की शिकायत करने पहुंचे। अब जिस तरह से सांसद आदर्श गांव भकुर्रा में योजनाओ को लेकर बड़े भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है।

ग्रामीणों की माने तो मनरेगा योजना से 200 से अधिक ग्रामीणों को काम स्वीकृत हुवा ये राशि एक करोड़ से ऊपर की बताई जा रही है इसमें भुगतान एक लाख का भी नही किया गया है। ऐसे में सांसद आदर्श गांव में एक बड़ा घोटाला होने का मामला निकल कर बाहर आया है। इस मामले में जिला पंचायत सीईओ का कहना है कि आज ही उनकी जानकारी में आया है जांच कराया जाएगा। लेकिन जिला पंचायत सीईओ की यह बात हजम होने वाली प्रतीत नही हो रही है क्योकि छत्तीसगढ़ सामाजिक अंकेक्षण दल भी मामले को सुलझाने गांव पहुचा था जहां न तो सरपंच न ही सचिव व रोजगार सहायक पहुंचे। अब जब यह मामला सामने आया तब इस मामले में जांच के बाद ही पता चलेगा कि आखिर यहां कितने का घोटाला हुआ है।

जी न्यूज इंडिया

x

COVID-19

India
Confirmed: 226,713Deaths: 6,363
ine