दिल्ली की चकाचौंध से दुर कांग्रेस के लिए छोड़ दी लाखो की नौकरी… अब रायगढ़ लोकसभा में युवाओं के चहेते बने इंजीनियर घनश्याम

Spread the love

दिल्ली की चकाचौंध से दुर कांग्रेस के लिए छोड़ दी लाखो की नौकरी… अब रायगढ़ लोकसभा में युवाओं के चहेते बने इंजीनियर घनश्याम

रायगढ़

आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर रायगढ़ लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस के दावेदारों की बात करें तो लगभग दो दर्जन दावेदारो ने लोकसभा टिकट के लिए अपनी दावेदारी पेश की है और रायगढ़ से लेकर जशपुर क्षेत्र तक के कांग्रेसी दिग्गजों ने आलाकमान के सामने लोकसभा चुनाव लड़ने अपनी इच्छा जाहिर की है वहीं रायगढ़ लोकसभा क्षेत्र में 20 साल का सूखा खत्म करने कांग्रेस भी इस बार कोई कोर कसर नहीं छोड़ने वाली। सारंगढ़ से लेकर जशपुर तक सभी ब्लॉकों में कांग्रेसी कार्यकर्ता आगामी लोकसभा के लिए काफी उत्साहित नजर आ रहे है। कांग्रेस हाईकमान यदि युवा चेहरों को मौका देती है तो रायगढ़ लोकसभा मे भाजपा के तिलस्म को खत्म करने के लिए युवा इंजीनियर घनश्याम सिदार काफी मशक्कत कर रहे हैं सभी दावेदारो मे ये कांग्रेस के लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकते हैं जिसका प्रमुख कारण युवा होने के साथ-साथ कम्प्युटर साईंस मे भोपाल से बी टेक की पढ़ाई की है तथा भारत सरकार के दूरसंचार विकास केंद्र दिल्ली मे सीनियर रिसर्च इंजीनियर की नौकरी छोड़ कांग्रेस सेवादल जिला इकाई रायगढ़ में कोषाध्यक्ष के तौर पर अपनी सेवा दे चुके हैं साथ ही अखिल भारतीय गोंडवाना गोंड महासभा दिल्ली इकाई की अध्यक्ष व राष्ट्रीय सचिव पद का कार्यानुभव भी इनको है। परिवारिक राजनीतिक पृष्ठभूमि की बात करें तो आजादी से पूर्व इनके दादा स्वर्गीय बैजनाथ सिंह सन् 1943 से कांग्रेस के साथ कार्य कर रहे थे जिसके बाद से ही पूरा परिवार कांग्रेस के साथ कार्य कर रहे है। सन 2014 लोकसभा चुनाव में रायगढ़ लोकसभा सीट के लिए इन्होंने छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी में अपनी दावेदारी प्रस्तुत की थी तथा विगत कई वर्षो के सभी चुनावो मे कांग्रेस को मजबूती दिलाने लगातार कार्य कर रहे हैं ।

जी न्यूज इंडिया